Загрузка...

Prime Time, Aug 16, 2019 | 'हालात अब सामान्य हो रहे', फिर भी बचे हुए हैं कश्मीर के सवाल

  • 🎬 Video
  • ℹ️ Description
जम्मू-कश्मीर पर पूरे देश की नजर है.अनुच्छेद 370 ख़त्म होने और राज्य के दो केंद्र शासित प्रदेशों में बदलने के बाद आज दूसरी जुमें की नमाज शान्ति से गुजर गई. इससे पहले वहां ईद और फिर 15 अगस्त भी तसल्ली से हो गई. यह राहत छोटी नहीं है, वहां इस दौरान कोई बड़ी हिंसा नहीं हुई. सरकार कहती रही है कि उसने इसीलिए सख़्ती की ताकि हिंसा न हो. उसे मालूम है कि उसने एक बहुत बड़ा फ़ैसला किया है जिस पर बहुत संभल कर चलने की जरूरत है. कल लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री ने जो कुछ कहा, उसे कुछ अलग शब्दों में आज जींद में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने दोहराया.

NDTV India is a 24-hour Hindi news channel. NDTV India established its image as one of India's leading credible news channels, and is a preferred channel by an audience which favours high quality programming and news, rather than sensational infotainment.

NDTV India's popular shows revolve around: news, politics, economy, sports, panel discussions with eminent personalities and noteworthy commentaries.

NDTV इंडिया भारत का सबसे निष्पक्ष और विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ चैनल है. NDTV इंडिया पर आप पॉलिटिक्स, बिजनेस, स्पोर्ट्स और बॉलीवुड से जुड़ी ताज़ा ख़बरें देख सकते हैं. सबसे निष्पक्ष और विश्वसनीय लाइव ख़बरों के लिए हमारे साथ बने रहें.

देखें NDTV इंडिया लाइव, फ़्री डिश पर चैनल नं 45


Download — Prime Time, Aug 16, 2019 | 'हालात अब सामान्य हो रहे', फिर भी बचे हुए हैं कश्मीर के सवाल

Download video
💬 Comments on the video
Author

नागालैंड पर डिबेट क्यों नहीं?
जिसे मोदी जी ने भारत से अलग करके देश के टुकड़े किए।

Author — Veer Bahadur

Author

Nigam ko btana chahiye ki bihar or up ke halat dekho..
Kya hal hai in education and development..

Author — Ajay Marabi

Author

नोएडा और गुरुग्राम में बिल्डर रो रहा है मगर कश्मीर में ज़मीन खरिदने के लिए लोग परेशान है

Author — POLITICS POLITICS

Author

हालात सामान्य हो रहे है पर असामान्य करने की जरुरत क्या थी, क्या वहा लोग रहते है या जानवर? क्या वहा की ज़मीन से सरकार को मतलब है या लोगो से?

Author — Vijay Kumar

Author

निधि जी आपकी शालीनता और सहजता सराहनीय है।
रवीश सर के प्रकाश में आप कहीं खो सी गयी है।

Author — Sudhanshu Ranjan

Author

रविश सर अब प्राइम टाइम में नही है, क्यों?
Ravish sir I miss u.

Author — KUNDAN PRASAD

Author

पूरे देश की अर्थ व्यवस्था ठप्प हो चुकी है पर कश्मीर मे विकास करने जा रहे है, बहुत नाइंसाफी है

Author — Vijay Kumar

Author

मोदी जूठ मत बोल कर्फ़्यू हटा फिर तुझे पता चलेगी तेरी ओकाद।।। आजादी के दिन जनप्रतिनिधियों पूर्व मुख्यमंत्री को बंदी बनाया फर्जी इंसान फर्जी लोकतांत्र चला रहा है। ।

Author — pcyco joker

Author

इन्वेस्टमेंट आएगा सुन सुन कर पका दिया है सब लोगो ने, मगर आने की बजाय जा रहा है शेयर मार्केट से निकल गया, ऑटोमोबाइल सेक्टर से निकल रहा, बस कश्मीर में पूरी दुनिया को इन्वेस्टमेंट करना है hahaha☺️☺️😊😊

Author — POLITICS POLITICS

Author

15 august 2019 sonia gandhiji lal kille par dikhay nahi diye

Ravishji ka kya kahana hai!!!!

Author — s u

Author

Can you imagine if Congress or other party even try to take this step..there would be approx 10000
Salute to Modi Amit Shah and entire team to handle it very well

Author — Gaurav Gusain

Author

Government can make J&K state a UT but why can't they make Delhi a full state?

Author — Jatin Kumar

Author

Where is Ravish sir? Now days Ravish sir like one man army. We never lose him

Author — Rahmat Sk

Author

Nidhi mam, u r as good ad as Ravish sir👍

Author — Mr. X

Author

@1:25 Agar ye samay taali bajaane ka nahin hai, toh phir amit shah ek rally mein kya bol raha hai ye bataane ki zaroorat kya pad gayi? Moral signalling karni thi bas

Author — Ankur Pandey

Author

Modi ji firstly improve your own uttarpardesh don't take tension for j&k people thanku all NDTV channel genearlist "truth sound"

Author — Manoj Sharma

Author

gandu amit shah pure kashmir m krfio laga kr 370 khatam krta h

Author — Mohd Sahil

Author

Please focus on some other states also I.e UP and BIHAR """ where is investment and development in these states

Author — SHEKHAR PANWAR

Author

ye naam nihaad kashmiri bitha kr dramy mat kro
sb acha hai to tmhary Harmi bap ny karfeo q lgaya hai
Parhay likhay JAHIL

Author — Hamza Sultani

Author

Mem please call unbiased speaker in your program

Author — Adnan Khan